Mobile Ban: शिक्षकों के लिए बैन हुआ मोबाइल, सिर्फ इमर्जेंसी में होगा इस्तेमाल, जानें विस्तार में

Mobile Ban For Teachers: उत्तराखंड (Uttarakhand) में हरिद्वार जिला प्रशासन ने स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों के लिए नए आदेश जारी किये हैं। इस आदेश के अनुसार अब से कोई भी अध्यापक स्कूल में क्लास के दौरान फ़ोन का इस्तेमाल नहीं (Mobile Ban In School) कर पाएंगे। यही नहीं उन्हें कक्षा में जाने से पहले अपने मोबाइल फ़ोन को प्रिंसिपल ऑफिस में जमा कराना होगा। ऐसा न करने की स्थिति में उन पर सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई किये जाने की चेतावनी भी दी गयी है। बताते चलें की ये आदेश हरिद्वार के जिलाधिकारी (Haridwar DM) विनय शंकर पांडेय द्वारा जारी किया है ।

शिक्षकों के खिलाफ शिकायतों के चलते लिया निर्णय

हरिद्वार जिलाधिकारी द्वारा जारी किये गए आदेश के अनुसार अब स्कूल में कोई भी शिक्षक क्लास में मोबाइल फोन नहीं ले जा पाएंगे। उन्होंने बताया की ऐसा शिक्षकों के खिलाफ आ रही शिकायतों को देखते हुए लिया गया है। जिलाधिकारी ने आगे बताया की बहुत समय से उन्हें इस बारे में अभिभावकों की शिकायते मिल रही थी। जिस के अनुसार कई शिक्षक क्लास में विद्यार्थियों को पढ़ाने के दौरान मोबाइल पर गेम खेलने , चैटिंग या अन्य ऐसे कार्यों में व्यस्त हो जाते थे। जिससे छात्रों पर भी असर पड़ता था और उनका ध्यान भी भटकता था। जिस वजह से अब जिला प्रशासन को ये फैसला लेना पड़ा। इससे शिक्षक अब एकाग्र होकर कक्षा में शिक्षण कार्य कर सकेंगे।

Uttarakhand Free Tablet Yojana

आदेश की अवहेलना पर सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई

जिलाधिकारी हरिद्वार द्वारा ये चेतावनी भी दी गयी है की यदि कोई भी शिक्षक इस आदेश के बाद कक्षा में फ़ोन ले जाते हैं तो उन्हें इस के लिए सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई से गुजरना होगा। यही नहीं संबंधित शिक्षक के अतिरिक्त स्कूल के प्रिंसिपल को भी इस संबंध में सजा भुगतनी होगी। ये आदेश हरिद्वार के सभी निजी और सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के पर लागू होगा। इसलिए आवश्यक है की सभी शिक्षक अपने फ़ोन प्रिंसिपल ऑफिस में जमा करवाएंगे

सिर्फ इमरजेंसी में ही होगा फोन का इस्तेमाल

मोबाइल का इस्तेमाल सिर्फ एमर्जेन्सी के समय ही किया जा सकेगा। इसमें यदि शिक्षक के परिवार में कोई मेडिकल इमरजेंसी है तो वो फ़ोन साथ रख सकते हैं। और इस बारे में शिक्षक को स्कूल प्रिंसिपल से अलग से अनुमति लेनी होगी।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment