LPG Cylinder Accident: अब गैस सिलेंडर हादसे में मिलेगा 50 लाख रुपये का मुआवज़ा, जानिए क्या करना होगा

LPG Cylinder Accident: गैस सिलेंडर अपनी बढ़ती हुई कीमतों से आजकल काफी चर्चा में हैं। ऐसा होना भी आम बात है क्यूंकि गैस सिलेंडर का इस्तेमाल आज लगभग हर घर में ही होता है। लेकिन इन सभी खबरों के बीच, क्या आप जानते हैं की गैस सिलेंडर हादसा होने पर ग्राहक को मिलेगा 50 लाख रूपए का मुआवज़ा। जी हाँ , दरअसल पेट्रोलियम और गैस कंपनियां अपने ग्राहकों को हर गैस कनेक्शन पर पर्सनल एक्सीडेंट कवर भी उपलब्ध कराती हैं।

LPG Cylinder: अब गैस सिलेंडर हादसे में मिलेगा 50 लाख रुपये का मुआवज़ा, जानिए क्या करना होगा
LPG Cylinder: अब गैस सिलेंडर हादसे में मिलेगा 50 लाख रुपये का मुआवज़ा, जानिए क्या करना होगा

गैस सिलेंडर हादसे में मिलेगा 50 लाख रुपये का मुआवज़ा

गैस सिलेंडर की वजह से होने वाले हादसों से ग्राहकों को होने वाले नुक्सान के मुआवज़े के तौर पर उन्हें 50 लाख रुपये तक की धनराशि दी जाएगी। ये आर्थिक सहायता ग्राहक को सिलेंडर में लीकेज या फटने के कारण हुए हादसे में मिलता है। ग्राहक की हादसे में उसकी प्रॉपर्टी या घर को नुक्सान पहुँचता है तो उसे 2 लाख रूपए तक इंश्योरेंस क्लेम दिया जाता है। हादसे में घायल होने पर मेडिकल सुविधा के लिए 30 लाख रूपए प्रति एक्सीडेंट का मुआवज़ा। वहीँ व्यक्ति की मौत होने पर 6 लाख रूप[आय का मुआवज़ा मिलता है।

सिलेंडर लेते समय अवश्य चेक करें

आज लगभग हर घरों में सिलेंडर का उपयोग होता है। सभी ग्राहकों की सुरक्षा के लिए ये आवश्यक है की वो एलपीजी सिलेंडर की खरीद करते समय ये आवश्यक तौर पर देख लें की जो सिलेंडर वो ले रहे हैं वो सही स्थिति में है या नहीं। किसी प्रकार का लीकेज या अन्य कोई भी समस्या न हो। इतना ध्यान देने से ही ग्राहक खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित कर सकते हैं। इसके अलावा घर में गैस सिलेंडर का इस्तेमाल करते समय भी थोड़ी सावधानी आवश्यक है , जैसे की ज्वलनशील वस्तुओं को गैस सिलेंडर से दूर रखें आदि।

हादसा होने की स्थिति में क्या करें?

सबसे पहले तो आप को एलपीजी सिलेंडर हादसे के बारे में निकटतम पुलिस थाने में जानकारी देनी होगी और इस बाबत रिपोर्ट दर्ज कराएं। इसके बाद ग्राहक के क्षेत्र का संबंधित एजेंसी द्वारा इस बात की जांच की जाती है की दुर्घटना की असल वजह क्या है ?हादसे की वजह LPG Cylinder ही है तो इस बारे में एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर एजेंसी/एरिया ऑफिस बीमा कंपनी के लोकल ऑफिस में सूचना देते हैं। इसके बाद सम्बंधित कंपनी में क्लेम फ़ाइल किया जाता है। आप की जानकारी के लिए बता दें की इसके लिए ग्राहकों को डायरेक्ट क्लेम करने या इससे संबंधित किसी भी प्रकार का आवेदन करने की आवश्श्यकता नहीं होती है।

ये भी जानें

  • नेशनल कंस्यूमर फोरम के आदेश के आधार पर Marketing Disciplin Guidelines 2014 For LPG Distribution के अनुसार यदि ऐसा कोई भी हादसा होता है तो इसके लिए डीलर और कप्म्पनी जिम्मेदार होगी।
  • गुइडेलिने के अनुसार ये आवश्यक है की डीलर गैस सिलेंडर डिलीवरी से पहले ये चेक करे की सिलेंडर की स्थिति बिलकुल सही होनी चाहिए।
  • इंडियन आयल , भारत पेट्रोलियम , हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के रसोई गैस के कनेक्शन लेने पर ICICI लोमबार्ड इन्शुरन्स देता है।
  • ध्यान रखें की ये मुआवज़ा तभी मिलेगा जब ग्राहक गैस एजेंसी के साथ पंजीकृत हो।

अब इस नंबर पर मिस्ड कॉल देकर बुक करें गैस, देखें क्या है ये नंबर

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment