Kisan Nyay Yojana: योग्य किसानों को मिलेगा प्रति एकड़ 10000 रुपये, ऐसे ले लाभ

Kisan Nyay Yojana का शुभारंभ छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा किया गया है। इस योजना के तहत राज्य के किसान नागरिकों की आय को दोगुना करने के लिए यह योजना राज्य भर में लागू की गयी है। फसल उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए एवं किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए यह योजना अपनी एक अहम् भूमिका निभाएगी। इस योजना के तहत राज्य के योग्य किसान जो वर्ष 2019 से खरीफ की फसल में धान और मक्का लगाने वाले है ,उन्हें सहकारी समिति के तहत उपार्जित मात्रा के आधार पर अधिकतम 10 हजार रूपए प्रति एकड़ की दर से सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

Kisan Nyay Yojana

किसान न्याय योजना राज्य के किसान नागरिकों को फसलों में सहायता राशि प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है। इस योजना के तहत किसान अलग-अलग फसलों के लिए सरकार के द्वारा निर्धारित की गयी राशि का लाभ ले सकते है। मक्का, कोदो, कुटकी, मक्का, अरहर, गन्ना, सोयाबीन आदि फसलों का उत्पादन करने के लिए किसानों को प्रति एकड़ के अनुसार 9 हजार रूपए की राशि प्रदान करेगी। इसके साथ ही यदि किसान व्यक्ति धान के बदले में कोदो कुटकी, गन्ना, अरहर, मक्का, सोयाबीन, दलहन, तिलहन, सुगंधित धान, केला, पपीता आदि फसलों का उत्पादन करता है तो उन्हें प्रति एकड़ के अनुसार उन्हें 10 हजार रुपये की वित्तीय सहयता राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना के तहत राज्य के 19 लाख से अधिक किसान नागरिकों के बैंक अकाउंट में 57 हजार करोड़ से अधिक रूपए की राशि 4 किस्तों के रूप में हस्तानांतरित की जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा शुरू की गयी यह योजना किसानी खेती प्रोत्साहित करने के लिए किसान नागरिकों के लिए एक विशेष योजना है।

किसान न्याय योजना उद्यानिकी फसल

किसान न्याय योजना की सहायता से किसानी खेती में वृद्धि हुई है। इसके साथ ही किसानों के खेती रकबा संख्या में बढ़ोतरी हुई है। जो किसान व्यक्ति खेती छोड़ चुके थे वह किसान न्याय योजना के संचालित होने से खेती के प्रति उनकी रूचि बढ़ी है। इस योजना से कृषि कार्य हेतु आकर्षित होने वाले किसान नागरिकों के लिए इस योजना का दायरा बढ़ाने का निर्णय राज्य सरकार के द्वारा लिया गया है। CG सरकार के माध्यम से किसान नागरिकों के लिए खरीफ फसलों के साथ-साथ उद्यानिकी फसलों को भी सम्मिलित किया गया है।

इसके साथ ही धान के बदले में अन्य फसलों की खेती करने हेतु इस योजना के तहत किसानों को 10 हजार रूपए की वित्तीय सहायता राशि प्रति एकड़ के अनुसार किसानों को प्रदान की जाएगी। किसान नागरिकों को आने वाले 3 वर्षो तक वृक्षारोपण करने पर प्रति एकड़ के हिसाब से 10 हजार रूपए की सहायता प्रदान करेगी।

योग्य किसानों को मिलेगा प्रति एकड़ 10000 रुपये, ऐसे ले लाभ

यदि आप छत्तीसगढ़ सरकार के माध्यम से संचालित की गयी किसान न्याय योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है तो किसान नागरिक इस योजना में आवेदन करके फसलों के उत्पादन हेतु 10 हजार की सहायता राशि प्राप्त कर सकते है। इसके लिए किसानों को कृषि विभाग के माध्यम से आवेदन फॉर्म एवं अपने सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ कार्यालय में जमा करना होगा।

Kisan Rail Yojana: किसानों को मिल रहे बहुत सारे फायदे, जानें पूरी ख़बर

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment