KVS Admission 2022 : कक्षा 1 में दाखिले की आयु सीमा पर आज आएगा फैसला, क्या है पूरा विवाद, जानें

KVS Admission 2022– केंद्रीय विद्यालय कक्षा 1 में दाखिले से संबंधी आयु का मामला कोर्ट पहुंच गया है। कक्षा एक में प्रवेश लेने हेतु आयु सीमा पर आज सुनवाई की जाएगी। केवी पहली कक्षा में प्रवेश लेने से संबंधी आयु सीमा बढ़ाये जाने के संबंध में कई अभिभावक ना खुश है। सरकार के इस फैसले से ना खुश एक पांच वर्ष की बच्ची ने इसके खिलाफ याचिका दर्ज की है। दर्ज की गयी इस याचिका में कहा गया है की केवीएस कक्षा 1 एडमिशन न्यूनतम आयु सीमा को अचानक से 1 वर्ष बढ़ा दिया गया है। पहले यह न्यूनतम आयु सीमा 5 वर्ष थी जिसे अब 6 वर्ष कर दिया गया है। इससे कई बच्चो का 1 वर्ष बर्बाद हो रहा है।

इससे पहले सोमवार को हुई सुनवाई में उच्च न्यायालय ने केंद्रीय विद्यालय संगठन से यह निर्देश दिए थे की इस वर्ष पहली कक्षा में एडमिशन लेने वाले विद्यार्थियों की न्यूनतम आयु 5 वर्ष की जा सकती है या फिर नहीं।

KVS Admission 2022

केंद्रीय विद्यालय में कक्षा 2 से लेकर ऊपर तक की सभी कक्षाओं के लिए 8 अप्रैल से प्रवेश की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। केंद्रीय विद्यालय में अपने बच्चो का पढ़ाने वाले अभिभावक केंद्रीय संगठन की आधिकारिक वेबसाइट के अंतर्गत एडमिशन हेतु ऑनलाइन मोड में आवेदन कर सकते है। केवीएस एडमिशन हेतु अभिभावक पोर्टल के अंतर्गत ऑनलाइन प्रक्रिया के आधार पर फॉर्म जमा कर सकते है। केवीएस में दाखिला करने के लिए अभिभावकों को आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश के लिए बताये गए शर्तों का पालन करना होगा।

कक्षा 2 से ऊपर की सभी कक्षाओं के लिए प्रवेश की यह प्रक्रिया 16 अप्रैल 2022 तक जारी रहेगी। कक्षा 11वीं को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं के लिए यह प्रवेश प्रक्रिया जारी रहेगी। केंद्रीय विद्यालय में अपने बच्चो को पढ़ाने वाले इच्छुक अभिभावक अंतिम तिथि से पहले आवेदन कर सकते है। आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी।

कक्षा 1 में दाखिले की आयु सीमा पर आज आएगा फैसला

केवीएस कक्षा 1 में प्रवेश लेने हेतु न्यूनतम आयु सीमा बढ़ाने के संबंध में विरोध किया गया है। इस मामले को लेकर कोर्ट में याचिका दायर की गयी है। जस्टिस रेखा पल्ली ने इस मामले को लेकर आदेश दिया था। इससे पहले भी याचिकाकर्त्ता बच्ची की और से अधिवक्ता अशोक अग्रवाल ने कहा था की न तो राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को चुनौती दे रही है और ना ही केवीएस को। वह केवल न्यूनतम आयु सीमा बढ़ाने के खिलाफ है।

दाखिले को लेकर न्यूनतम आयु बढ़ाने के संबंध में जस्टिस पल्ली ने कहा है की यदि केवीएस इस पर फैसला नहीं करता है तो अगली सुनवाई पर कोर्ट समुचित आदेश पारित करेगा ,पिछले साल KVS के तहत दाखिला लेने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 6 वर्ष को सही ठहराया था।

Leave a Comment