Iffco Urea DAP Price: इफको ने जारी किए यूरिया, डीएपी एवं एनपीके खाद के नए दाम, जानिए किस भाव पर मिलेगा

Iffco Urea DAP Price : खरीफ सीजन की शुरुआत होने वाली है। इससे पहले ही सरकार ने उर्वरकों की नई कीमत जारी कर दी है। बता दें कि इस में कोई बढ़ोतरी नहीं की गयी है, जिससे किसानों को बहुत राहत मिली है। बता दें की अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे माल की कीमतों में काफी उछाल आया है जिसकी वजह से राष्ट्रीय स्तर पर भी कीमतों में वृद्धि होने की सम्भावना लग रही थी। हालाँकि सरकार ने इस बार भी यूरिया, डीएपी एवं एनपीके खाद (Iffco Urea DAP Price) में कोई बढ़ोतरी नहीं की है। जिससे किसानों को काफी राहत मिली है। बता दें की इस बार भी पिछले साल से चल रही कीमतों को ही जारी रखा जाएगा। समान दामों पर ही किसान इस बार भी खाद व उर्वरक खरीद सकेंगे।

Iffco Urea DAP Price

इफको (IFFCO) केंद्र सरकार के स्वामित्व वाली कम्पनी है , जिसने इस साल उर्वरकों की कीमतों में कोई वृद्धि नहीं की है। इफको द्वारा दी गयी जानकारी दी कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में केमिकल फ़र्टिलाइज़र की कीमतें बहुत अधिक हैं , बावजूद इसके देश में किसानों के लिए इन कीमतों को स्थिर रखा गया है। बता दें की भारत सरकार ने इस बार फॉस्फोरस और पोटाश से संबंधित उर्वरकों के दामों में वृद्धि सरकार कंपनियों को सब्सिडी प्रदान करेगी। वित्तीय वर्ष 2022 के खरीफ सीजन के लिए केंद्र सरकार द्वारा  60,939 करोड़ रुपए की सब्सिडी प्रदान करने की घोषणा की गयी है।

PM Kusum Yojana : सोलर पम्प लगवाने के लिए किसानों को मिल रही सब्सिडी, जानें कैसे उठायें फायदा

यहाँ जानिये कुछ महत्वपूर्ण तथ्य : Iffco Urea DAP Price

जैसा की आप जानते हैं कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है। यहाँ खरीफ और रबी से जैसी मुख्य फसलें होती हैं। इन फसलों के लिए रसायनिक उर्वरकों की आवश्यकता होती है। बताते चलें कि वर्ष 2020 से 2021 में देश में यूरिया की 350.51 लाख टन, डीएपी 119.18 लाख टन, एनपीके 125.82 लाख टन तथा एमओपी 34.32 लाख टन की खपत थी।

जानकारी दे दें की देश में उर्वरकों की खपत के अनुसार देश में इनका उत्पादन इतना नहीं होता। जिस वजह से सभी उर्वरकों को बाहर से आयात करना होता है। आयत किये हुए रासायनिक उर्वरक की कीमतें अंतर्राष्ट्रीय बाजार के अनुसार होती है। जिसे सरकार किसानों को खाद देने वाली कंपनियों को सब्सिडी प्रदान करती है।

यहाँ जानिये वर्ष 2020 – 2021 में आयात किये हुए खाद की मात्रा

यूरिया – 98.28 लाख टन 

डीएपी – 48.82 लाख टन 

एनपीके – 13.90 लाख टन 

एमओपी – 42.27 लाख टन 

Budget 2022: किसानों के लिए बड़ी खबर! इस बजट में सरकार खाद पर दे सकती है सब्सिडी

यहाँ जानिये खाद की कीमतें

इफको द्वारा खरीफ सीजन के लिए रसायनिक उर्वरकों की कीमत को जारी किया है। जानकारी दे दें की इस वर्ष भी पिछले वर्ष की ही तरह आप को सामान कीमतों पर उर्वरक खरीफ सीजन के लिए मिल जाएंगे।

  • यूरिया – 266.50 रुपए प्रति बैग (45 किलोग्राम)
  • एमओपी – 1,700 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • एनपीके – 1,470 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • डीएपी – 1,350 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)

यहाँ जानिये बिना सब्सिडी के किन दामों पर मिलेगा खाद

जैसे की लेख में हमने बताया की किसानों द्वारा खाद खरीदने पर संबंधित कंपनियों को सब्सिडी प्रदान की जाती है। इससे किसानों को भी कीमतों में राहत मिल जाती है। इस सब्सिडी के माध्यम से सरकार देश में खाद के कीमतों में स्थिरता बनाये रखती है। जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे माल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में बिना सब्सिडी के देश में खाद बहुत महंगा हो जाएगा। आइये जानते हैं कि बिना सब्सिडी उर्वरकों के क्या दाम हैं –

  • डीएपी – 4,073 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • एमओपी – 2,654 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • एनपीके – 3,291 रुपए प्रति बैग (50 किलोग्राम)
  • यूरिया – 2,450 रुपए प्रति बैग (45 किलोग्राम)

(रजिस्ट्रेशन) एमपी किसान अनुदान योजना 2022: ऑनलाइन फॉर्म, कृषि उपकरण सब्सिडी

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment