Google Pay New Rule: सावधान! 1 जनवरी से बदल जाएगा गूगल पे का नियम, जानें क्या है ये नियम

Google Pay New Rule: मौजूदा समय में डिजिटल माध्यम से पेमेंट करना या ऑनलाइन पेमेंट करना काफी आम बात हो चुकी है। डिजिटल पेमेंट करना पहले की अपेक्षाकृत काफी सरल और सुरक्षित है। इन्ही वजहों से अब लोग इसका इस्तेमाल काफी ज़्यादा करने लगे हैं। डिजिटल पेमेंट्स करने के लिए आज ऑनलाइन बहुत सी एप्प हैं जिनके माध्यम से आप जब चाहे घर बैठकर कोई भी ट्रांसक्शन (लेन देन) की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं। इसी तरह की एक एप्प है गूगल पे , जिस के माध्यम से आज बहुत से लोग लेन देन में इसका इस्तेमाल करते हैं। उन सभी यूजर्स के लिए Google Pay New Rule के बारे में एक महत्वपूर्ण खबर है।

जानें क्या है ये नियम

जो भी नागरिक व उपभोक्ता Google Pay का इस्तेमाल करते हैं उन सभी के लिए एक जरुरी खबर है। आप की जानकारी के लिए बता दें की 1 जनवरी 2022 से गूगल के ऑनलाइन पेमेंट से संबंधित कुछ नियम बदल जाएंगे। जी हाँ , अगले साल की शुरुआत के साथ ही गूगल अब यूजर्स के कार्ड की जानकारी सेव नहीं कर पाएगा। अभी तक गूगल की सर्विसेज का इस्तेमाल करने के लिए उपभोक्ताओं को पेमेंट के समय कार्ड डिटेल्स डालनी होती थी। जिस में से कुछ गूगल द्वारा सेव कर लिया जाता था। जैसे की कार्ड नंबर और उसकी एक्सपायरी डेट। जिसका इस्तेमाल आप बाद में भी कर सकते थे। लेकिन अब नए नियमों के चलते ऐसा नहीं होगा। अब गूगल द्वारा अपने किसी भी उपभोक्ता के कार्ड की जानकरी सेव नहीं की जाएगी। आप को किसी भी प्रकार का लेन देन करने के लिए 31 दिसंबर 2021 तक हर बार ट्रांसक्शन के लिए अपनी कार्ड डिटेल्स को भरना होगा।

1 जनवरी से बदल जाएगा गूगल पे का नियम

अगले साल की शुरुआत से गूगल के माध्यम से किये जाने वाले पेमेंट संबंधी नियम में बदलाव कर दिए जाएंगे। ऐसा करने के पीछे वजह है भारतीय रिज़र्व बैंक की गाइडलाइन्स जिन्हे Google को पेमेंट एग्रीगेटर्स (PA) और पेमेंट गेटवे (PG) के लिए फॉलो करना होता है। इन्ही गाइडलाइन्स की वजह से अब गूगल को किसी भी उपभोक्ता के कार्ड की जानकारी सेव करने की अनुमति नहीं होगी। ये नियम गूगल एड्स , गूगल प्ले स्टोर और यूट्यूब के लिए भी लागू होगा।

क्यों जरुरी है ये बदलाव

Google Pay New Rule के आने से हुए बदलाव से अब सभी ग्राहकों के कार्ड की जानकारी गूगल द्वारा सेव नहीं की जाएगी। ये बदलाव जरुरी था। ऐसा इसलिए क्यूंकि इस बदलाव के बाद संवेदनशील और महत्वपूर्ण जानकारियों के लीक होने का खतरा भी बहुत कम हो जाएगा। ऐसे में साइबर क्राइम के केसेस में भी काफी हद तक कमी आ जाएगी। जिस से कहीं न कहीं उपभोक्ताओं को ही लाभ है। हालाँकि इसके लिए यूजर्स को जिनके पास मास्टर कार्ड हैं उन्हें अपने कार्ड की जानकारी को नए फॉर्मेट में सेव करने के लिए ऑथोराइज़्ड करना होगा।

Google Pay New Rule

आरबीआई के दिशा निर्देश के आधार पर किये जा रहे गूगल पे मैन्युअल ऑनलाइन पेमेंट में बदलाव की वजह से अब सभी उपभोक्ताओं को पेमेंट करते समय फिर से अपने कार्ड की डिटेल्स को भरना होगा। एक बार डिटेल्स भरने के बाद इसका इस्तेमाल सिर्फ एक बार ट्रांज़ैक्शन करने के लिए किया जा सकेगा।

यदि आप उसी कार्ड (वीज़ा या मास्टर कार्ड) से आगे भी अपना ट्रांसक्शन जारी रखना चाहते हैं तो आप को इसकी डिटेल्स 31 दिसंबर से पहले फिर से भरके डालनी होगी और कम से कम एक ट्रांसक्शन पूरा करना होगा। यदि आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आप को अपना कार्ड अकाउंट में शो नहीं करेगा। अपने कार्ड का इस्तेमाल करने के लिए आप को फिर से अपने कार्ड की डिटेल्स भरनी होंगी।

मात्र 4 दिन हैं गूगल 75000 रुपये स्कालरशिप के आवेदन को, जल्दी भरें फॉर्म

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment