खुशखबरी! इस साल सरकार किसानों की आय करेगी दोगुनी, जानें क्या है सरकार की योजना?

Farmer News: जैसा की आप सभी जानते ही सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए सभी वो प्रयास कर रही ही जिससे उनकी इनके में वृद्धि हो सके। किसनों को यह जानकार ख़ुशी होगी की सरकार ने इसके लिए योजना बना ली है। मंगलवार को कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह ने कहा कि देश की केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकार भी 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने पर लगी है। बता दें, साल 2016 में मोदी सरकार ने किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया था और यह लक्ष्य कई हद तक सफल भी हुआ है।

खुशखबरी! इस साल सरकार किसानों की आय करेगी दोगुनी, जानें क्या है सरकार की योजना
खुशखबरी! इस साल सरकार किसानों की आय करेगी दोगुनी, जानें क्या है सरकार की योजना

साल 2018 में सितम्बर के महीने में अंतर मंत्रालयी समिति (Inter-Ministerial Committee) ने किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य हासिल करने के लिए रणनीति तैयार करके रिपोर्ट भेजी थी। रणनीति को स्वीकार करने के बाद सरकार ने रिव्यु और निगरानी हेतु अधिकार प्राप्त निकाय का गठन किया गया।

सकल घरेलु उत्पाद के लिए कृषि योगदान जरुरी

देश के सकल घरेलु उत्पाद (ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट) में कृषि का योगदान बहुत ही आवश्यक है। बता दें, कृषि मंत्री ने गोवा में हुए प्रोग्राम को संबोधित करते हुए यह बोला कि केंद्र सरकार ने हमेशा से कृषि और अन्य संबद्ध (अलाइड) गतिविधियों को पहली मुख्य प्राथमिकता दी गयी है। उन्होंने एक सरकारी बयान में भी यह कहा है किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का सपना केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

इसके लिए किसान, राज्य सरकार और केंद्र सरकार हाल की परिस्थितियों और महामारी के दौरान भी काम कर रहे है जिससे कृषि क्षेत्र का विकास हुआ है और किसानों द्वारा अधिक पैदावार की गयी है। गोवा में भी जिस समय टूरिज्म इंडस्ट्री ठप पड़ी थी उस समय कृषि क्षेत्र में उन्नति हुई।

चलिए जानते है क्या है सरकार की योजना

देश के छोटे व सीमान्त किसानों को आर्थिक सहायता और मजबूती देने के लिए शुरू की गयी पीएम किसान के साथ-साथ अन्य केंद्रीय योजनाओं पर रोशनी डालते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर जी ने कहा कि वह आने वाले साल 2027-28 तक 10 हजार किसान प्रोडूसर आर्गेनाईजेशन की स्थापना करने के प्रयास कर रहे है। इसमें कुल बजट 6865 करोड़ रुपये निर्धारित किये है। यह योजना गोवा में सफलतापूर्वक लागू की जाएगी।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने प्रोग्राम को संबोधित करके यह कहा कि गोवा क्षेत्र में नयी एडवांस्ड टेक्नोलॉजी और न्यू टेक्निक्स राज्य के युवा नागरिकों को कृषि क्षेत्र की और आकर्षित और अग्रसर कर रही है। वह लोगों को कृषि बागवानी, मत्सय पालन (मछली पालन), डेरी फार्मिंग, फूलो की खेती के रूप में इंटीग्रेटेड फार्मिंग (एकीकृत खेती) करने की रिक्वेस्ट कर रही है।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment