EPFO News: 31 दिसंबर से पहले जल्दी से निपटा लें ये जरूरी काम, वरना 7 लाख रुपये का होगा नुकसान

EPFO News: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employees Provident Fund Organization) के सभी ग्राहकों के लिए एक बहुत ही आवश्यक सूचना है। जैसे की आप सभी जानते होंगे की EPFO द्वारा अपने ग्राहकों को बहुत सी सुविधाएं दी जाती हैं। जिनमे से एक है EPF सुविधा। जिसके बारे में हाल ही में अपडेट आया है। इस में कहा गया है की सभी ग्राहकों को इस साल के अंत तक अपने खातों में नॉमिनेशन की प्रक्रिया पूरी करनी होगी। सभी लोगों (EPFO Members) के लिए ऐसा करना आवश्यक है। इसलिए यदि आप भी इन में से एक हैं तो बिना देर किये जल्द से जल्द अपने खाते में नॉमिनी का नाम अवश्य दर्ज करा लें।

31 दिसंबर से पहले जल्दी से निपटा लें ये जरूरी काम

अब से सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए ये आवश्यक होगा की वो अपने पीएफ खाते में अपने नॉमिनी का नाम दर्ज करवा लें। अपने पीएफ खाते में नॉमिनी का नाम जुड़वाने के लिए आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2021 है। यदि आप ने भी अभी तक अपने PF Account में अपने नॉमिनी का नाम दर्ज नहीं किया है तो जल्द ही ऐसा कर लें अन्यथा आप को इस से नुकसान उठाना पड़ेगा। जैसा की आप जानते होंगे की PF Account Holder की मौत होने पर ये रकम बीमा कवर राशि के तौर उस के परिवार के सदस्यों को मिल जाती है। लेकिन आप की जानकारी के लिए बता दें की यदि आप ने अपने नॉमिनी का नाम नहीं दर्ज किया है तो ऐसे में परिवार को बीमा राशि प्राप्त नहीं हो सकती है।

7 लाख रुपये का होगा नुकसान

जिन सरकारी कर्मचारियों के पीएफ अकाउंट है उन्हें अपने नॉमिनी का नाम भी इस के साथ दर्ज करना होगा। आप की जानकारी के लिए बता दें की ये आवश्यक है। और नए नियमों के मुताबिक सभी ईपीएफ़ओ के कर्मचारियों को 31 दिसंबर 2021 तक हर हाल में अपने नॉमिनी का नाम दर्ज करवाना होगा। अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो उनके परिवार को बाद में बीमा कवर का लाभ नहीं मिलेगा। जो कि सामान्य तौर पर खाताधारक की मृत्यु होने की स्थिति में मिलता है। जिसका मतलब है की परिवार को 7 लाख रूपए तक का नुक्सान उठाना होगा।

इसे आप ऐसे समझ सकते हैं यदि ईपीएफ कर्मचारी की मृत्यु होती है तो उन व्यक्ति का कानूनी उत्तराधिकारी या नॉमिनी बीमा (ईडीएलआई बीमा कवर) की रकम को क्लेम कर सकता है। यदि ये नाम पहले से नामांकित नहीं किया गया है तो उन्हें दावा पेश करते समय परेशानी हो सकती है। और जाहिर सी बात है की ऐसे में पीएफ की रकम निकालना मुश्किल होगा। आप को बताते चलें की स्कीम (ईडीएलआई बीमा कवर) के तहत न्यूनतम बीमा राशि 2.5 लाख रूपए है जबकि अधिकतम राशि 7 लाख रूपए तक की है। इस हिसाब से बीमाधारक व परिवार को 7 लाख रूपए बीमा के तौर पर ले सकता है , लेकिन नामांकन न होने से उन्हें नुकसान हो सकता है।

ऐसे करें ई – नॉमिनेशन

  • सबसे पहले आप EPFO की आधिकारिक वेबसाइट epfindia.gov.in पर जाएँ।
  • अब आप Services के ऑप्शन पर क्लिक करें। फिर  ‘For Employees’ और उस के बाद ‘सदस्य यूएएन/ऑनलाइन सेवा (ओसीएस/ओटीसीपी)’ पर क्लिक करें।
  • अब यूएएन नंबर और पासवर्ड डालकर लॉगिन करें।
  • मैनेज टैब में जाकर ई नॉमिनेशन को चुनें। अब ‘विवरण प्रदान करें” के विकल्प को चुनें और Save पर क्लिक कर दें।
  • परिवार से जुडी जानकारी के लिए Yes पर क्लिक करें। आप एक से ज्यादा नॉमिनी का चुनाव भी कर सकते हैं।
  • nomination details पर क्लिक करके आप बताएं की नॉमिनी कितने प्रतिशत के हकदार होंगे।
  • अब  E-Sign पर क्लिक करें। अब आधार रजिस्टरड मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त करें।
  • अब निर्धारित स्थान पर ओटीपी दर्ज करें और submit के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस तरह से आप की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

 10 लाख रुपए है आपकी सैलरी तो नहीं देना होगा कोई टैक्स, ऐसे करें प्लानिंग और कैलकुलेशन

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment