Duck Farming Business Idea: थोड़ी सी मेहनत से शुरू करें बतख पालन व्यवसाय, हर महीने लाखों में होगी कमाई

Duck Farming Business Idea: दोस्तों क्या आप जानते हैं की कोरोना काल में बहुत से लोगों का रोजगार जाने से उन्होंने अपने खुद के छोटे बिजनेस की शुरुआत से आज वह हर महीने बेहद ही बेहतर कमाई कर रहे हैं, यदि आप भी ऐसे ही किसी बिजनेस की शुरुआत कर लाखों की कमाई करना चाहते हैं, तो आज हम आपके लिए बेहद ही बेहतर बिजनेस आइडिया की जानकारी लेकर आए हैं, यह बिजनेस थोड़ी सी मेहनत से शुरू किया जाने वाला बतख पालन व्यवसाय है, जिसमे आपको मुर्गी पालन की तुलना में अधिक अधिक उत्पादन और फयदा प्राप्त हो सकता है, Duck Farming Business से आप हर महीने बतख और उनके अंडो की बिक्री से हर महीने लाखों की कमाई कर सकते हैं।

बतख पालन व्यवसाय आईडिया

बतख पालन का व्यवसाय (Duck Farming Business) छोटे स्तर से 20 से 30 बतख पालन से शुरू किया जा सकता हैं। बतख पलायन का व्ययवसाय मुर्गी पालन के बाद सबसे अधिक किया जाने वाला आकर्षक और लाभदायक व्यवसाय है, क्योंकि बतख को दिए जाने वाले प्रोटीन आहार के अलावा यह छोटे मोटे कीड़े, कृषि औधोगिक कचरा, घोंगा, मछली, मक्का आदि का भी सेवन कर लेते हैं, जिससे इनका पालन करना और भी आसान हो जाता है। इसके साथ ही बतख पालन से उनकी संख्या के बढ़ने पर मांस पैकेजिंग और अंडे के बिक्री से बेहतर लाभ कमाया जा सकता हैं, जिनमे अंडे के लिए भारतीय धावक बतख, खाकी केम्पबेल बतख और मांस उत्पादन के लिए मासकोवी बतख, स्वीडन बतख, रूल कागुआ आदि बतख व्यवसाय के लिए बेहद ही फायदेमंद होते हैं।

Duck Farming Business के लिए आवास की व्यवस्था

Duck Farming Business की शुरुआत के लिए बतखों का चयन से पहले उनके आवास की व्यवस्था करनी आवश्यक होती है। इनका आवास बनाना अधिक मुश्किल का काम नहीं होता। आम तौर पर बतखों के लिए प्राकृतिक स्थान आवास के लिए बेहतर विकल्प होता है, लेकिन बतख पालन के लिए इनका आवास किसी भी गीली या सुखी जगह पर भी बनाया जा सकता है, यानी बतखों को गीली जगह में रहने पर भी कोई समस्या नहीं होती। बतख पालन के लिए बनाए गए आवास में वेंटिलेशन या हवा के आर-पार होने के लिए दरवाजे या खिड़ियों की व्यवस्था होनी आवश्यक होती है।

Cake Making Business: 60 से 70 हजार की लागत से घर पर शुरू करें ये बिज़नेस, होगी लाखों की कमाई

बतख पालन के लिए भोजन

बतखों के चूजों के लिए 25 फीसदी पाच्य प्रोटीन देना सही होता है, 3 सप्ताह तक के चूजे को भोजन में चयापचय ऊर्जा की 2700 कैलोरी और प्रोटीन की आवश्यकता होती है, वही एक अंडे देने वाई बतख के भोजन में प्रोटीन या आहार की मात्रा को 16 से 18 प्रतिशत होनी चाहिए। इसके साथ ही बतखों को तालाब या गीली मिटटी वाली जगह में भी आहार दिया जा सकता है, जिससे वह वहाँ से कीड़े मकोड़े या घोंघे को खाकर भी जलिए जीवों का सेवन कर सकेंगे। बतखों के लिए साफ़ पानी की भी व्यवस्था करना आवश्यक होता है।

रोग एवं उपचार की व्यवस्था

बतखों पालन में मुर्गी पालन की तुलना रोग फैलने की मात्रा अधिक नहीं होती। लेकिन बहुत से रोग जिनसे बतखों को बचाया जाना बेहद ही आवश्यक है जैसे बतखों में फ्लू, प्लेग, सूखे पॉक्स, इन्फेक्शन होने का खतरा अधिक बना रहता है, जिनसे कई बार बीमार पड़ने से बतखों की मृत्यु हो जाती है, इससे बचने के लिए चूजों को फ्लू का टीका लगना आवश्यक होता है, इसके साथ ही उनके स्थानों को साफ़ व स्वच्छ रखने के लिए समय-समय पर कीटनाशक का भी छिड़काव करते रहना चाहिए।

बतख पालन में प्रजनन की व्यवस्था

बतख पालन में प्रजनन के लिए पानी के स्रोत की आवश्यकता होती है, जिसमे बतखों के आवास स्थान पर 10 मादा बतखों पर एक नर बतख होना चाहिए। एक बतख 5 से 6 महीने में प्रजनन के लिए परिपक्व होती है, जिसमे एक बतख के अंडे का वजन लगभग 50-60 ग्राम होता है। अंडे सेने के दौरान एक अंडे पर एक बार पानी का छिड़काव कर सकते हैं। इसके अलावा इन्क्यूबेटर का उपयोग अंडे से चूजों को पैदा करने के लिए किया जा सकता है।

Mushroom Farming Business Ideas: सिर्फ 5 हजार रुपये में शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी बंपर कमाई

जाने Duck Farming Business की लागत

बतख पालन के लिए लिए मुख्य खर्च बतखों की खरीद और उनके भोजन का होता है, बतखों की पालन की लगात इसकी मात्रा पर निर्भर करती है, उदाहरण के तौर पर यदि हम 500 बतख के अंडे के साथ जाएँ तो 500 बतखों के चूजों के लिए 400 से 500 रूपये देने होंगे और उनके खाने-पीने व रख-रखाव का 2 से 3 हजार रूपये एक का खर्चा अलग से देना होगा। इसके साथ ही 10 से 12 हजार रूपये का खर्च स्टाफ की लगत में लग जाता है।

जाने कितनी होगी बतख पालन की खेती से होने वाली आय

बतख पालन से आप कुछ ही समय में बेहद ही बेहतर लाभ अर्जित कर सकते हैं, बतख के मांस और अंडे की मांग बाजारों में मुर्गी के बाद अधिक होती है, यदि बात करें इसके अंडे की तो एक अंडे की कीमत 7 से 8 रूपये तक की होती है। इसके लिए बतख पालन के लिए ख़रीदे गए चूजों के परिपक्व होने के बाद जब बतख अंडे देने के लिए तैयार हो जाते हैं तो ये 4 से 5 महीने में लगभग हर दिन एक अंडा देने के लिए तैयार हो जाते हैं जिसकी बाजार में अच्छी कीमत मिल जाती है, ऐसे में यदी आप 500 बतख पालते हैं तो इन 500 बतखों के एक-एक अंडे की कीमत से आप कुल 105000 रूपये प्रतिमाह का लाभ अर्जित कर सकेंगे।

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment