दुआरे राशन योजना: अब लोगों को घर बैठे मिलेगा राशन, जानें क्या है पूरी प्रक्रिया

Duare Ration Scheme: हाल ही में मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘दुआरे राशन योजना‘ लांच की है। इसी दौरान ममता बनर्जी ने कहा- एक दिन राशन डीलर्स को नोबल पुरस्कार मिलेगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ‘दुआरे राशन योजना’ से राज्य के लगभग 10 करोड़ लोगो को लाभ प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत राशन डीलर्स को राशन कार्ड धारकों के घर जाकर राशन की डिलीवरी करनी होगी। क्या है दुआरे राशन योजना? कैसे लोगो को घर बैठे मिल सकेगा राशन, जानिए क्या है पूरी प्रक्रिया आगे दी गयी जानकारी को पढ़कर।

क्या है दुआरे राशन योजना

दुआरे राशन योजना की शुरुआत हाल ही में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के द्वारा की गयी है। इस योजना के अंतर्गत राशन डीलर्स द्वारा राशन कार्ड धारकों के घर तक राशन पहुंचाया जाएगा। राशन की डिलीवरी के लिए डीलर्स दो कर्मचारियों को नियुक्त कर सकते है। इस कर्मचारियों का वेतन 10 हजार रूपये प्रति माह होगा। इन कर्मचारियों का आधा वेतन साकार द्वारा और शेष आधा वेतन डीलर्स द्वारा वहन किया जाएगा। डीलर्स को वाहन खरीदने के लिए भी सरकार 1 लाख रूपये उपलब्ध कराएगी। दुआरे राशन योजना के माध्यम से नागरिकों को घर बैठे राशन मिलेगा। किसी भी राशन कार्ड धारक को राशन लेने के लिए कही नहीं जाना होगा। क्योंकि सरकार द्वारा राशन घर पर ही भिजवाया जाएगा।

राज्य के 10 करोड़ लोगो को मिलेगा लाभ

सीएम ममता बनर्जी ने कहा – दुआरे राशन योजना के माध्यम से राज्य के लगभग 10 करोड़ो लोगो को सहायता मिलेगी। इस योजना के माध्यम से एक निश्चित दिन पर 10 करोड़ लोगो को एक साथ राशन उनके दरवाजे पर उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा की सरकार द्वारा राशन डीलर्स को आर्थिक सहायता प्रदान किया जायेगा। दो राशन कर्मचारियों की आधा वेतन सरकार द्वारा दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से राज्य के लोगो को काफी मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि राशन डीलर्स को 75 प्रतिशत कमीशन के बजाय 150 प्रतिशत कमीशन मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा – मैं इस योजना को सफल बनाने का अनुरोध करूंगी।

इतना होगा योजना पर व्यय

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि सरकार द्वारा दुआरे राशन योजना के लिए लगभग 160 करोड़ रूपये खर्च किये जायेंगें। हालांकि 21000 राशन डीलर्स को राशन डिलीवर करने के लिए वाहन भी खरीदने होंगे। सरकार द्वारा राशन डीलर्स को वाहन खरीदने के लिए एक-एक लाख रूपये दिए जायेंगे। ताकि डीलर्स को वाहन खरीदने में मदद मिल सके। वाहन की मदद से कर्मचारी आसानी से राशन कार्ड धारकों के घर पर राशन पहुंचा सकेंगे।

युवाओं को मिलेंगे नौकरी के अवसर

दुआरे राशन योजना के माध्यम से 42000 युवाओं को नौकरी के अवसर प्राप्त होंगे। हर राशन डीलर को अधिकतम 2 कर्मचारी रखने की अनुमति होगी। इसी प्रकार 21000 डीलर्स के लिए 2 कर्मचारी के हिसाब से स्थानीय युवाओं को 42000 पदों पर नौकरी के अवसर मिलेंगे। प्रत्येक कर्मचारी का वेतन 10000 रूपये प्रतिमाह होगा5000 रूपये राज्य सरकार द्वारा वहन किये जायेंगे शेष 5000 रूपये राशन डीलर द्वारा वर्धन किये जायेंगे। इस प्रकार राज्य के स्थानीय युवा के पास नौकरी के लिए बहुत अच्छा मौका है।

किसी भी फिल्ड मे ग्रामीण युवा ले फ्री ट्रेनिंग, मिलेगा रोजगार

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment