Covid Booster Vaccine Dose: जानें कब से और किसको लगेगी कोरोना की बूस्टर डोज़

Covid Booster Vaccine Dose: 10 जनवरी 2022 से भारत में कोरोना वैक्सीन बूस्टर डोज देने की प्रक्रिया को शुरू किया जायेगा। इसे भारत में Precaution Dose के नाम से जाना जायेगा। कोविड बूस्टर डोज के तीसरे डोज के प्रथम चरण में Frontline workers, healthcare workers और किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित 60 वर्ष के अधिक आयु के नागरिकों को यह डोज दिया जायेगा। बूस्टर डोज को लेकर लोगो के मन में काफी सवाल भी है की यह कितने गैप के बाद कोई व्यक्ति इस डोज को ले सकता है। तो आइये जानते है कोरोना वैक्सीन बूस्टर डोज (Covid Booster Vaccine Dose) कब से और कौन से लोगो को सर्वप्रथम दी जाएगी। और इसके लिए कितना गैप निर्धारित किया गया है।

Covid Booster Vaccine Dose: जानें कब से और किसको लगेगी कोरोना की बूस्टर डोज़
Covid Booster Vaccine Dose: कब से और किसको लगेगी कोरोना की बूस्टर डोज़

जानें कब से और किसको लगेगी कोरोना की बूस्टर डोज़

बूस्टर डोज के लिए फिलहाल अभी फ्रंट लाइन वर्कर ,और हेल्थकेयर वर्कर और 60 वर्ष की आयु से ऊपर वाले वह नागरिक जो किसी गंभीर बिमारी से पीड़ित है उन्हें Precaution Dose दिया जायेगा। यह डोज उसी तरह से नागरिकों को दी जाएगी जिस तरह से कोरोना की पहली दो डोज नागरिकों को दी गयी है। बूस्टर डोज के लिए भारत सरकार के द्वारा कोई अलग प्रणाली तय नहीं की गयी है। नीति आयोग के सदस्य स्वास्थ्य वी.के पॉल ने कहा है की जिन लोगो को कोवैक्सीन की डोज लगी है उन्हें को वैक्सीन की डोज मिलेगी और जिन्हे कोविशील्ड की डोज मिली है उन्हें कोवीशील्ड की डोज मिलेगी।

27 दिसंबर को, TOI ने सबसे पहले यह रिपोर्ट दी थी कि तीसरी या Precaution Dose में वही टीका शामिल होगा जो किसी व्यक्ति को पहली और दूसरी खुराक के रूप में दिया गया था।

Covid Booster Vaccine Dose

भारत सरकार के प्रोजेक्शन के अनुसार 3 करोड़ से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों को बूस्टर डोज के प्रथम चरण में Precaution Dose दी जाएगी। यह दोज दूसरी डोज के 9 और 12 महीने के अंतराल में लिया जा सकता है। जनवरी और मार्च 2021 के बीच में दूसरी डोज लेने वाले नागरिक 10 जनवरी से बूस्टर डोज के रूप में तीसरा डोज ले सकते है।

इसके साथ ही देश भर में 60 वर्ष की आयु वर्ग के 2 करोड़ 8 लाख लोगो को यह बूस्टर डोज लगाने का अनुमान लगाया जा रहा है। इस श्रेणी में उत्तर प्रदेश ,पश्चिम बंगाल ,महराष्ट्र ,तमिलनाडू जैसे राज्य से नागरिकों की संख्या अधिक है। हालाँकि बूस्टर डोज के रूप में Precaution Dose के लिए बहुत से कम लोग तीसरे डोज के लिए पात्र होंगे क्युकी यदि 9 माह की अवधि को तीसरे डोज के लिए पूरा नहीं किया गया तो वह बूस्टर डोज के रूप में लगने वाली तीसरी खुराक लेने के पात्र नहीं होंगे।

बूस्टर डोज (Covid Booster Vaccine Dose) लेने के बाद नागरिकों को उसी प्रकार से कोवीड सर्टिफिकेट दिया जायेगा। जिस तरह से पहले दो डोज लेने पर दिया गया था। वैक्सीन सर्टिफिकेट को लेकर यह जानकारी डॉ आरएस शर्मा ने दी है।

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment