Closing Schools and Colleges in Maharashtra: क्या महाराष्ट्र में स्कूल और कॉलेज बंद हो जाएँगे, 15 दिनों में होगा फैसला

Closing Schools and Colleges in Maharashtra: महराष्ट्र राज्य के स्कूल और कॉलेज बंद करने को लेकर जल्द ही सरकार के द्वारा कोई निर्णय लिया जा सकता है। 27 दिसंबर को राज्य मंत्री ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा की राज्य में स्कूल और कॉलेज को बंद करने का फैसला 15 दिन बाद राज्य के हालात को चेक करने के बाद लिया जायेगा। इसी के साथ राज्य मंत्री आदित्य ठाकरे ने यह कहा है की सरकार के द्वारा स्थिति का निरूपण किया जायेगा। निरूपण के बाद ही कॉलेज और स्कूल बंद करने को लेकर कोई फैसला लिया जायेगा। राज्य में क्रिसमस के बाद कोरोना के बढ़ते मामलों में वृद्धि देखी गयी है ऐसे में जल्द ही स्टूडेंट्स के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कॉलेज स्कूल अवकाश के लिए कोई निर्णय लिया जायेगा।

क्या महाराष्ट्र में स्कूल और कॉलेज बंद हो जाएँगे

कोरोना के बढ़ते मामलो को देखते हुए अभी स्कूल और कॉलेज बंद करने के लिए महाराष्ट्र सरकार के द्वारा 15 दिनों के बाद कोई निर्णय लिया जायेगा। यदि राज्य में स्थिति सही नहीं हुई तो जल्द ही स्कूल कॉलेजों को बंद करने के लिए आधिकारिक घोषणा की जाएगी। क्रिसमस के बाद कोविड-19 के केसेस में बढ़ोतरी देखी गयी है। ऐसे में कोरोना पर नियंत्रण करने के लिए सरकार के द्वारा 15 दिनों में कोई फैसला सुनाया जायेगा। क्रिसमस के बाद राज्य में कोरोना के 900 से अधिक मामले सामने आये है। इसके साथ ही राज्य में ओमीक्रॉन के बढ़ते मामले भी समाने आ रहे है।

फिलहाल तो अभी क्रिसमस को लेकर स्कूल ,विश्वविद्यालयों की छुट्टी है लेकिन यह अवकाश खत्म हो जाने के बाद परिस्थतियों को ध्यान में रखते हुए जल्द ही कोरोना संक्रमण को नियंत्रण करने के लिए सरकार द्वारा कोई फैसला लिया जायेगा। 27 दिसंबर को ओमीक्रॉन के 26 नए मामले सामने आये है। इसी के साथ बचाव के लिए 3 जनवरी से राज्य में 15 वर्ष की आयु से 18 वर्ष की आयु वाले नागरिकों के लिए वैक्सीनेशन प्रक्रिया शुरू हो जायेगा।

Closing Schools and Colleges in Maharashtra

ओमीक्रॉन और कोरोना के बढ़ते केसेस को देखते हुए राज्य मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा है की संक्रमण के बढ़ते केसेस के कारण हम सभी लोगो को अपनी जिम्मेदारियां समझनी होगी सभी को भीड़-भाड़ वाली जगह से बचना होगा और सभी लोगो को मास्क लगाना होगा। हालाँकि क्रिसमस के चलते राज्य में स्कूल और कॉलेज में अवकाश चल रहा है। लेकिन छुट्टियां खत्म होने के बाद राज्य में बढ़ रहे संक्रमण की स्थिति के अनुसार यह निर्णय लिया जायेगा की आगे के लिए स्कूल और कॉलेज खुले रखने है की नहीं।

इसके साथ ही आदित्य ठाकरे ने कहा की स्कूल और कॉलेज बंद रखना दुःख की बात है क्योंकी कई सारे विद्यार्थी ऐसे है जिन्होंने 2 वर्ष से अभी तक स्कूल देखा भी नहीं है। यह एक अफसोस की बात है लेकिन बच्चों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सभी स्कूल संस्थानों का बंद रहना आवश्यक है। राज्य की स्थिति के अनुसार सरकार को भी कुछ जरुरी फैसले लेने होते है। राज्य में संक्रमण के बढ़ते मामलो की स्थिति को देखते हुए जल्द ही महाराष्ट्र सरकार के द्वारा कोई फैसला लिया जायेगा।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment