Bharat Bond ETF: पैसा ‘डबल’ करने का सबसे सुरक्षित तरीका, FD से बेहतर मिलेगा रिटर्न मिलेगा

Bharat Bond ETF: भारत सरकार Bharat Bond Exchange Traded Fund (ETF) के तीसरे चरण को लॉन्च करने के लिए तैयार है ,यह तीसरा चरण सभी निवेशकों के लिए 3 दिसंबर से subscription के लिए ओपन हो गयी है। इसमें investor 9 दिसंबर 2021 तक निवेश कर सकते है। केंद्र सरकार के इस तीसरे चरण में 10 हजार करोड़ रूपए तक की राशि जोड़ी जा सकती है। Exchange Traded Fund (ETF) के माध्यम से केवल सार्वजानिक क्षेत्र के AAA रेटिंग वाले बॉन्ड में इन्वेस्ट किया जाता है। यह उन सभी इन्वेस्टर के लिए बेहतर विकल्प है जो मार्केट में अपना पैसा सुरक्षित जगह इन्वेस्ट करना चाहते है। सभी निवेशकों के लिए यह पैसा ‘डबल’ करने का सबसे सुरक्षित तरीका है।

भारत बॉन्ड ईटीएफ क्या है ?

Bharat Bond ETF एक्सचेंज ट्रेडेड फंड है जो म्यूच्यूअल फंड के जैसे होते है। लेकिन ETF को किसी शेयर या स्टॉक एक्सचेंज से बेचा और ख़रीदा जा सकता है। ईटीएफ केवल AAA रेटिंग वाली पब्लिक सेक्टर कंपनियों के बॉन्ड में ही निवेश करता है। इसी वजह से भारत बांड ईटीएफ को सुरक्षित माना जा रहा है। नया ETF 10 वर्ष की अवधि में मैच्योर होगा। जो की अप्रैल 2032 में पूरा होगा। इस ETF को Bharat Bond ETF अप्रैल 2032 का नाम दिया गया है। इसमें सभी तरह के इन्वेस्टर इन्वेस्ट कर सकते है।

भारत बॉन्ड ईटीएफ का पहला चरण केंद्र सरकार के द्वारा वर्ष 2019 के दिसंबर माह में लॉन्च किया गया था। इसके साथ ही दूसरा चरण 2020 के जुलाई माह में लॉन्च किया गया था ,दूसरे चरण में 3 गुना से अधिक subscription मिलने से 11 हजार करोड़ रूपए जोड़े गए थे। इसके साथ ही ETF का तीसरा चरण 3 दिसंबर 2021 को लॉन्च किया गया है। जिसकी मैच्योरिटी अवधि 10 साल है जो वर्ष 2032 में पूरी होगी।

Bharat Bond ETF कंपनियों के बांड में निवेश

भारत बांड ईटीएफ के माध्यम से नीचे दिए गए इन कंपनियों के बांड में निवेश करेगी। नीचे दिए गए विवरण के अनुसार आप सभी कंपनियों के नाम चेक कर सकते है।

  • इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन
  • पवर फइनेंस
  • पवरग्रिड, NTPC LTD, NHPC LTD
  • नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट
  • एक्सपोर्ट इंपोर्ट बैंक, न्यूक्लियर पावर कॉरपोरेशन

भारत बॉन्ड ईटीएफ के लाभ

Bharat Bond ETF के तहत यदि 15 अप्रैल 2032 की अवधि तक बने रहने के लिए इन्वेस्टर को 6.87 प्रतिशत की दर से ब्याज प्राप्त हो सकता है। सुरक्षित निवेश के लिए यह एक बेहतर विकल्प है। इसका मुख्य कारण यह है की यह सिर्फ ट्रिपल रेटिंग वाली पब्लिक सेक्टर के बॉन्ड में इन्वेस्ट करता है। इसीलिए सकुशल और मजबूत रिटर्न पाने के लिए यह एक बेहतर विकल्प है।

  • म्यूच्यूअल फंड की तरफ से टैक्स बेनिफिट
  • liquidity की कोई समस्या नहीं
  • एक्सचेंज पर कभी खरीद या बेच सकते है
  • indexation के बाद सिर्फ 20 प्रतिशत टैक्स
  • निवेश की लागत कम होती है।
  • इसके साथ ही इसमें expense ratio सिर्फ 0.0005% है। यानी की 2 लाख रूपए की निवेश पर अधिकतम खर्च 1 रूपए का ही है।
  • यह एक फिक्स मैच्यॉरिटी वाली स्कीम है।
  • इस स्कीम में निवेशक स्टेबल की उम्मीद रख सकते है।

बड़ी खबर!! अब ATM से पैसे निकालना होगा महंगा, यहां देखें क्या होंगे नए चार्ज

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment