7th Pay Commission Pay Level 3: जानें क्या है Pay Matrix, जिससे बढ़ेगी सैलरी! जानिए कैसे मिलेगा आपको फायदा?

7th Pay Commission Pay Level 3: आपको बता दें, की जबसे 7th पे कमीशन लागू हुआ है तब से कई बदलाव देखने को मिले है। केंद्रीय कर्मचरियों के वेतन में अब पे-मैट्रिक्स का बहुत ही इम्पोर्टेन्ट (अहम) रोल है। क्या आप जानते है कि पहले कर्मचारियों का स्टेटस ग्रेड पे के आधार पर किया जाता था। ग्रेड पे के अनुसार ही कर्मचारी की सैलरी की ग्रोथ निर्धारित की जाती थी। चलिए जानते है क्या है पे मैट्रिक्स जिससे बढ़ेगी सैलरी।

क्या है पे मैट्रिक्स

बात देते है कि पे मैट्रिक्स सैलरी लिमिट का एक रिकॉर्ड चार्ट है। इसका उपयोग केंद्र सरकार के कर्मचारियों की सैलरी स्ट्रक्चर को चेंज करते समय किया जाता है। पे मैट्रिक्स में सैलरी लेवल और रौस के आधार पर कॉमंस विभाजित होते है। इसमें कर्मचारियों को अपने जीवन के 40 साल तक के वेतन में हुई वृद्धि का पूरा डाटा दिखाई देगा।

अब पे मैट्रिक्स के आधार पर होगा कर्मचारियों का वेतन तय

जी हाँ, 7th पे कमीशन लागू होने के बाद से अब पे मैट्रिक्स के आधार पर एम्प्लाइज की सैलरी तय की जाएगी। सातवे वतन के अंतर्गत पे मैट्रिक्स लेवल 3 से बेसिक पे स्ट्रक्चर तय किया जाता है। यह बेसिक स्ट्रक्चर 21,700 से शुरू होकर 40 इंक्रेमेन्ट्स के साथ 69,100 रूपये तक जाता है। जानिए कैसे :

यदि कोई व्यक्ति दिल्ली में पोस्ट ऑफिस में पोस्टमैन के पद पर कार्यत है और वह पे मैट्रिक्स लेवल 3 के अंतर्गत आता है। उस व्यक्ति की बेसिक सैलरी 21,700 रूपये है तो चलिए जानते है कि उस कर्मचारी का कुल वेतन कितना होगा।

  • Level and GP : लेवल 3 (GP-2000)
  • जगह- दिल्ली
  • बेसिक पे : 21,700 रुपये
  • DA (डिअरनेस अलाउंस 31% के हिसाब से) : 21,700*31% – 6727 रुपये
  • House Rent Allowance (27% के हिसाब से) : 21,700*27% – 5859 रुपये
  • travelling अलाउंस : (लेवल 3/A1 शहर) – 4716 रुपये
  • कुल सैलरी : (21,700 + 6727 + 5859 + 4716 ) – 39,002 रुपये प्रति महीने

कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 18000 रुपये

सातवें वेतन आयोग के लागू होने के पश्चात अब एंट्री लेवल के सरकारी कर्मचरियों की बेसिक सैलरी को 7000 रुपये से बढ़ाकर 18 हजार रुपये कर दिया गया है। जिसके बाद सैलरी की गणना (कैलकुलेशन) अब बेसिक स्ट्रक्चर 18 हजार के अनुसार की जाएगी। इसके साथ ही क्लास 1 ऑफ़िसर को अब मिनिमम सैलरी 56,100 तक मिलेगी।

टेबल के जरिये की जाती है कैलकुलेशन

आपको बता दें इसकी कैलकुलेशन टेबल के जरिए की जाती है। रक्षा बलों, सिविलियन कर्मचरियों एवं मिलिट्री नर्सिंग सर्विसेज के लिए अलग-अलग पे मैट्रिक्स को तैयार किया गया है। जिसके आधार पर ही इन सभी कर्मचारियों की सैलरी तैयार की जाती है।

खुशखबरी! केंद्रीय कर्मचारियों के DA के अलावा HRA में हुआ 20,160 रुपए का इजाफा, पढ़ें विस्तार में

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment