7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के मज़े! दोगुनी हो सकती है सैलरी, समझिए कैलकुलेशन

7th Pay Commission Double Salary: केंद्र सरकार के द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी की जा सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह जानकारी दी गयी है की जल्द ही केंद्र सरकार के द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों के लिए फिटमेंट फैक्टर में वृद्धि करने जा रही है। यदि फिटमेंट फैक्टर में वृद्धि की जाएगी तो कर्मचारियों की सैलरी में दोगुना इजाफा होगा। आइये जानते है सातवे वेतन आयोग के मुताबिक केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में कितनी बढ़ोतरी होगी। यहाँ आप सातवें वेतन आयोग के माध्यम से न्यूनतम बेसिक सैलरी पर होने वाली वृद्धि के बारे में जानकारी को विस्तार पूर्वक देख सकते है।

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों ke maje! दोगुनी हो सकती है सैलरी, समझिए कैलकुलेशन
केंद्रीय कर्मचारियों के मजे! दोगुनी हो सकती है सैलरी, समझिए कैलकुलेशन

7th Pay Commission Fitment Factor

सातवें वेतन आयोग के अनुसार मौजूदा समय में फिटमेंट फैक्टर 2.57 है। केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी तय करते समय अलाउंस के आलावा महंगाई भत्ता (DA), यात्रा भत्ता (TA), हाउस रेंट अलाउंट (HRA) आदि को कर्मचारी की बेसिक सैलरी सातवें वेतन आयोग के फिटमेंट फैक्टर 2.57 प्रतिशत निकाला जाता है।

AICPI इंडेक्स नवंबर के आंकड़े आ गए है। यह इंडेक्स 125.7 के पार पहुंच गया है। लेबर मिनस्ट्री के नवंबर 2021 के आंकड़े देखे तो इसमें 0.8 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। ऐसे में यह स्पष्ट तौर पर साफ हो गया है की जनवरी 2022 के लिए महंगाई भत्ते में 2 प्रतिशत की दर से वृद्धि होगी। यानी की Dearness allowance (महंगाई भत्ता) में 31 प्रतिशत से 33 प्रतिशत वृद्धि होगी। इसका भुगतान सरकार के द्वारा मार्च माह से पहले कभी भी किया जा सकता है। 2 प्रतिशत DA में वृद्धि होने पर लेवल 1 के केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में प्रतिमाह के रूप में 360 रूपए की वृद्धि होगी। इसी के साथ यदि 3 प्रतिशत की दर से DA में वृद्धि की गयी तो कर्मचारियों को प्रतिमाह के रूप में 540 रूपए का लाभ मिलेगा

फिटमेंट फैक्टर

नए वर्ष में फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार के द्वारा जल्द ही कोई निर्णय लिया जा सकता है। वर्तमान समय में फिटमेंट फैक्टर 2.57 प्रतिशत की दर से कर्मचारियों को प्रदान किया जाता है। फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने को लेकर केंद्रीय कर्मचारी काफी लम्बे समय से मांग कर रहे है की इसमें वृद्धि की जाये। यदि केंद्र सरकार के द्वारा कर्मचारियों के इस प्रस्ताव को स्वीकार किया जाता है तो इसमें 3.68 प्रतिशत की वृद्धि होगी। हालाँकि फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाने को लेकर अभी केंद्र सरकार के द्वारा कोई घोषणा जारी नहीं की गयी है लेकिन उम्मीद है की 26 जनवरी से पहले केंद्रीय कर्मचारियों के लिए केंद्र सरकार फिटमेंट फैक्टर बढ़ाने को लेकर कोई फैसला ले सकती है।

केंद्रीय कर्मचारियों की दोगुनी हो सकती है सैलरी

यदि कर्मचारियों की सैलरी में केंद्र सरकार के द्वारा इजाफा किया जाता है तो न्यूनतम बेसिक सैलरी 18 हजार रूपए से बढ़कर 26 हजार रूपए प्रतिमाह हो जाएगी। अलाउंस को छोड़कर कर्मचारी की सैलरी होगी 18,000 X 2.57= 46,260 रुपए। इसी के साथ यदि फिटमेंट फैक्टर को 2.57 प्रतिशत की दर से 3.68 के रूप में वृद्धि की जाती है तो ऐसे में कर्मचारी व्यक्ति की सैलरी में 26000X3.68= 95,680 रूपए की वृद्धि होगी। इस तरह से वेतन डबल होने का अनुमान लगाया गया है। यह कैलकुलेशन केवल न्यूनतम बेसिक सैलरी पर किया गया है। अधिक सैलरी पाने वाले कर्मचारियों की सैलरी में अधिक वृद्धि होगी।

ऐसी ही और भी सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट pmmodiyojanaye.in को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment